Home न्यूज सहारा हॉस्पिटल में लगी बृहद पैथालॉजी प्रदर्शनी

सहारा हॉस्पिटल में लगी बृहद पैथालॉजी प्रदर्शनी

129
0

छात्रों सहित हजारों जन सामान्य को ब्लड सेल से लेकर कैंसर सेल तक का मिला ज्ञान

लखनऊ : गोमतीनगर स्थित सहारा हॉस्पिटल में वृहद स्तर पर पैथालॉजी प्रदर्शनी लगायी गयी, इसमें कई प्रकार के जटिल रोगों के कारण, निवारण और उपचार आदि की विस्तृत जानकारी दी गयी। प्रदर्शनी का अवलोकन कई स्कूल और कालेजों के एक हजार से अधिक छात्र-छात्राओं के अतिरिक्त आमजनों ने भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।
हॉस्पिटल की एंट्रेंस लॉबी में लगी प्रदर्शनी का शुभारम्भ सहारा इंडिया परिवार के सीनियर एडवाइजर अनिल विक्रम सिंह एवं डॉ. मजहर हुसैन डायरेक्टर मेडिकल हेल्थ ने संयुक्त रूप से फीता काटकर किया।

इस अवसर पर श्री सिंह ने कहा कि हमारे अभिभावक ‘सहाराश्री” जी के विजन को साकार करते हुए पहली बार इस तरह प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। इस प्रदर्शनी का उद्देश्य था कि जो छात्र-छात्राएं चिकित्सा क्षेत्र के विषयों को पढ़ रहे हैं और भविष्य में डाक्टर, नर्स आदि बनने का सपना संजोए हैं, उन्हें इस प्रदर्शनी में माइक्रोस्कोप से एवं आपरेशन द्वारा निकाले गए ट्यूमर, ब्लड सेल, कैंसर सेल और टयूमर में कैंसर को साक्षात देखने का मौका दिया जाए। इसके साथ ही स्तन, थायरॉयड, गर्भाशय, गुर्दे, आंत, पित्ताशय, मस्तिष्क आदि के ट्यूमर की प्रक्रिया के संदर्भ में जानकारी मिले। हॉस्पिटल के पैथालॉजिस्ट और सर्जनों के द्वारा विभिन्न बीमारियों के प्रति मिथकों से छुटकारा पाने और तथ्यों की जानकारी दी गयी। उन्होंने कहा कि हमारे अभिभावक ‘सहाराश्री” जी ने ऐसा विश्वस्तरीय हॉस्पिटल दिया है, जहां एक ही छत के नीचे अत्याधुनिक सुविधा मिलती है। इसके साथ ही अत्याधुनिक उपकरणों, विशेषज्ञों की अनुभवी टीम उचित मूल्य पर निरंतर इलाज उपलब्ध करवा रही है। खासबात यह है कि हमारे हॉस्पिटल की टीम समय-समय पर कार्यक्रम आयोजित कर जनमानस को जागरूक करने व लाभान्वित करने को तत्पर रहती है।
इस मौके पर हॉस्पिटल की लैब मेडिसिन विभाग की हेड डा. अंजू शुक्ला ने बताया कि पहली बार उत्तर प्रदेश में इस तरह की प्रदर्शनी लगायी गयी, जिसमें उन मरीजों के ट्यूमर का प्रदर्शन किया गया, जिनका सफलतापूर्वक उपचार किया जा चुका है। जागरण पब्लिक स्कूल, एमिटी इंस्टीट्यूट ऑफ फार्मेसी, दिल्ली पब्लिक स्कूल और सेठ आनन्द राम जयपुरिया आदि शिक्षण संस्थानों के छात्र-छात्राओं ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया। प्रदर्शनी में करीब 20 स्टाल लगाये गये थे और प्रवेश द्वार पर सभी आगंतुकों को फीडबैक फार्म दिया गया, जिसे प्रदर्शनी के अंतिम छोर पर रखे ड्रॉप बाक्स में डालना था। माइक्रोस्कोपी से ब्लड सेल देखने के बाद कक्षा 11 के अंकित गुप्ता ने प्रोस्टेट कैंसर की जानकारी ली और बोल पड़े कि “अब मेरा संकल्प पक्का हो गया है कि मैं डाक्टर ही बनूंगा”। इसी प्रकार कक्षा 12 की एक छात्रा कहने लगी कि बच्चेदानी के कैंसर की जानकारी उनके लिए काफी ज्ञानवर्दृधक साबित हुई है। ऐसे ही एक छात्र बोल पड़ा कि सबको छोड़ आज हम लोगों को शिक्षा देने के लिए विशेषज्ञ चिकित्सक, सर्जन डाक्टर मौजूद हैं, जो कल्पना से परे की बात लगती थी। बच्चों के सवाल का जवाब देने के लिए लैब मेडिसिन विभाग की विशेषज्ञ डॉक्टर शारेह नकवी, डा. सुरभी गुप्ता, वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ मंजूषा गर्ग, गैस्ट्रोसर्जन डा. विजय पाण्डेय, इंडोक्राइन एवं ब्रेस्ट सर्जन डॉ. प्रतीक और डॉ.फरहा भी मौजूद थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here