Home न्यूज सहारा हॉस्पिटल का एमिटी कैम्पस में सामूहिक रक्तदान शिविर आयोजित

सहारा हॉस्पिटल का एमिटी कैम्पस में सामूहिक रक्तदान शिविर आयोजित

94
0

“राज्य रक्त संचरण परिषद” की पहल की एक कड़ी रहा आयोजन

लखनऊ : सहारा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, लखनऊ द्वारा बुधवार को एमिटी यूनिवर्सिटी के प्रांगण में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया । इस रक्तदान शिविर का शुभारम्भ प्रातः 10 बजे किया गया। तत्पश्चात एक सम्मान समारोह में सहारा हॉस्पिटल के मैनेजमेंट को धन्यवाद ज्ञापित किया गया। इस रक्तदान शिविर में एमिटी यूनिवर्सिटी के फैकल्टी, स्टाफ के साथ- साथ काफी संख्या में वहां के विद्यार्थियों ने रक्तदान किया।
यह रक्तदान शिविर, सहारा इंडिया परिवार के सीनियर एडवाइजर अनिल विक्रम सिंहजी के कुशल दिशा निर्देशन में आयोजित किया गया।
श्रीसिंह ने जानकारी दी कि सहारा हॉस्पिटल के प्रांगण में अक्सर रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाता रहा है किन्तु अब हम अपने कैंपस के बाहर भी रक्तदान शिविर को आयोजित कर रहे हैं। एमिटी यूनिवर्सिटी में यह आयोजन उसी की तरफ बढ़ा एक कदम है। हमारे अभिभावक सहाराश्रीजी ने हमेशा सामाजिक सरोकार को महत्व दिया है। संस्थान का मानना है कि रक्तदान करना अपने आप में काफी पवित्र काम है और इसीलिए सहारा हॉस्पिटल हर नेक काम में कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है।
आज के रक्तदान शिविर को सहारा हॉस्पिटल के चिकित्सक द्वय डॉ. अंजू शुक्ला एवं डॉ. अरविन्द सिंह की देखरेख में संचालित किया गया । रक्तदान शिविर के लिए, एमिटी यूनिवर्सिटी के कैंपस में सहारा हॉस्पिटल की तरफ से रक्तदान के लिए पूरा सेट-अप तैयार किया गया था, जिसमे डॉक्टर के साथ तकनीशियन और सपोर्टिंग स्टाफ ने भरपूर साथ दिया। यह रक्तदान शिविर, “राज्य रक्त संचरण परिषद”, उत्तर प्रदेश की पहल की भी एक कड़ी है।
इस कार्यक्रम में एमिटी यूनिवर्सिटी के डिप्टी प्रो वॉइस चांसलर विंग कमांडर डा. अनिल कुमार ने सहारा हॉस्पिटल के इस प्रयास की काफी सराहना की और आगे भी इस तरह के कार्यक्रम में सहारा हॉस्पिटल की सहभागिता की इच्छा व्यक्त की। एमिटी यूनिवर्सिटी के डीन एकेडेमिक्स प्रो. डा. राजेश तिवारी ने सहारा हॉस्पिटल का धन्यवाद किया और खुद रक्तदान कर इस शिविर की शुरुआत की। एमिटी इंस्टिट्यूट ऑफ़ फार्मेसी की डायरेक्टर प्रो. डॉ. अनुराधा मिश्रा और प्रोग्राम फैकल्टी कोऑर्डिनेटर लूसी महापात्रा ने इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए बढ़-चढ़ कर अपनी हिस्सेदारी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here