Home न्यूज लोकगीतों संग बृज की फूलों की होली की मोहक छटा बिखरी

लोकगीतों संग बृज की फूलों की होली की मोहक छटा बिखरी

266
0

भारतीय नववर्ष मेला व चैती महोत्सव की अंतिम संध्या 

लखनऊ, 11 अप्रैल 2022। तुलसी शोध संस्थान श्रीराम लीला समिति ऐशबाग के तत्वावधान और संस्कृति विभाग उत्तर प्रदेश के सहयोग से आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत श्रीराम लीला मैदान में चल रहे भारतीय नववर्ष मेला व चैती महोत्सव 2022 की अंतिम संस्कृतिक संध्या में अवधी लोक गीतों संग बृज की फूलों की होली की मोहक छटा बिखरी।

इसके पूर्व आज की चैती महोत्सव की नवीं सांस्कृतिक सन्ध्या का उद्घाटन मुख्य अतिथि पूर्व बृज बहादुर विधान परिषद सदस्य ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस अवसर पर श्री राम लीला समिति के अध्यक्ष हरीश चन्द्र अग्रवाल और सचिव पंडित आदित्य द्विवेदी ने मुख्य अतिथि बृज बहादुर विधान परिषद सदस्य को पुष्पगुच्छ, अंग वस्त्र और स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया।

संगीत से सजे कार्यक्रम का आरम्भ ब्रज लोक संस्कृति एवं सेवा संस्थान के कलाकारों ने बृज की फूलों की होली के साथ बृज के अन्य लोक नृत्यों की सुरभि बिखेरी। कार्यक्रम मे  वन्दना श्री के नृत्य निर्देशन में वन्दना सिंह, अर्चना वर्मा, खुशबू वर्मा, रौशनी, जगृती, मणिका, प्राची, सोनम, डॉली, दीक्षा, इचक्षा, दीपक शर्मा, केशव, मुकेश, ब्रजवासी, दीपक नागर, राकेश, असलम, अर्थव, थ्मस्या और देवेश ने फाग खेलन बरसाने मे आयें हैं पर फूलों से होली खेलते हुए भावपूर्ण अभिनय युक्त नृत्य प्रस्तुत कर कलाप्रेमी दर्शकों को भाव विभोर कर दिया।

संगीत से सजे इस कार्यक्रम के बाद अलका द्विवेदी के नृत्य निर्देशन में लावण्या राय और रितिशा सिंह ने गणेश वंदना पर भाव नृत्य से कर विघ्न विनाशक भगवान गणेश जी के चरणों में अपनी अगाध श्रद्धा अर्पित की। इसी क्रम में अंकिता सिंह ने रामायण की चौपाई सुनाई। समायरा जैन ने भक्ति गीत और शाम्भवी राय व प्रगति शुक्ल ने राजस्थानी लोक नृत्य की मनोरम छटा बिखेरी।

मन को मोह लेने वाली इस प्रस्तुति के उपरान्त माधुरी वर्मा ने सासु पनिया कैसे जाऊं रसिले दोनो नैना से कर अपनी सुमधुर आवाज में अंगुली मे डसले पिया नगिनिया हो है सखी, होले होले डोले बोले पिपरा के पटवा और हमारी गुलाबी चुनरिया को सुनाकर श्रोताओं की असंख्य तालियां बटोरीं।

ह्रदय को हर्षातिरेक से भर देने वाली इस पेशकश के बाद निधि श्रीवास्तव के नृत्य निर्देशन मे अनुष्का यादव, अनमिका यादव, प्रियांशी वर्मा, अभय सिंह, अमन भारती और आकाश सैनी ने गणेश वंदना के उपरान्त राम जनम, राम विवाह, लंका विजय और राम का राज्याभिषेक प्रसंग को भाव एवं नृत्य द्वारा प्रस्तुत कर दर्शकों को भाव विभोर कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here