Home न्यूज राष्ट्रहित में पत्रकारिता की भूमिका अहम”- अतुल कपूर

राष्ट्रहित में पत्रकारिता की भूमिका अहम”- अतुल कपूर

172
0

जिलाधिकारी सीतापुर अनुज सिंह व ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के मंडल अध्यक्ष अतुल कपूर ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर ग्रामीण मीडिया कार्यशाला का शुभारंभ किया

धीरेन्द्र श्रीवास्तव

सीतापुर ।जिला पंचायत के नेहरू सभागार में मंगलवार को वार्तालाप मीडिया कार्यशाला का आयोजन हुआ। जिसमें मीडिया कर्मियों को ग्रामीण विकास की तस्वीर दिखाई गई। अतिथियों का सम्मान भेंट कर किया गया। इस मौके पर जिलाधिकारी अनुज सिंह व मिश्रिख विधायक रामकृष्ण भार्गव की मौजूदगी में ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के सैकड़ों पत्रकार मौजूद रहे। पत्रकार पंकज सिंह ने कहा कि विभाग के जिम्मेदार अधिकारी ग्रामीण पत्रकारों को सही आंकड़े नहीं देते हैं। योजनाओं के जब तक पत्रकारों को सही आंकड़े नहीं मिल पाएंगे तो समाज के अंतिम व्यक्ति तक कैसे लाभ मिल सकेगा।
जिलाधिकारी अनुज सिंह ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि देश व समाज के विकास में मीडिया की अहम भूमिका है। गांवों के विकास के लिए सभी को जुटना है, इसके लिए सभी तैयार रहें। कहा कि सरकार ने तमाम कल्याणकारी योजनाएं चला रखी हैं। बस हम सभी को इन योजनाओं को पात्र लाभार्थियों तक पहुंचाना है।
मिश्रिख विधायक रामकृष्ण भार्गव ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकारी योजनाओं की जानकारी गांवों तक पहुंचाने में ग्रामीण मीडिया की बड़ी भूमिका रही है। विधायक ने कहा कि ‘ग्रामीण मीडिया कार्यशाला’ में कहा कि सरकार की योजनाओं में जनप्रतिनिधि व प्रशासनिक अधिकारियों के लिए पत्रकार सबसे बड़े मददगार हैं। सरकार की तमाम योजनाएं गांव-गरीब तक पहुँच रही इसमें ग्रामीण मीडिया की बड़ी भूमिका है। समाज और सरकार के लिए सबसे बड़ी उम्मीदें हैं।कहा कि ग्रामीण पत्रकार स्तंभ हैं। समस्याओं के निस्तारण में उनकी बहुत बड़ी भूमिका है। ग्रामीण मीडिया कार्यशाला वार्तालाप में पत्रकारों को संबोधित करते हुए लखनऊ मंडल के मंडल अध्यक्ष श्री अतुल कपूर ने कहा जन कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी लोगों तक पहुंचाने में मीडिया एक सेतु का काम करती है। अपने समाज पर समाचार पत्रों का विशेष प्रभाव है। पत्रकारों को चाहिए कि वे राष्ट्रहित व समाज कल्याण में सकारात्मक पत्रकारिता को बल दें। श्री अतुल कपूर ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि पत्रकारों की कलम कभी नहीं कांपती, विकट परिस्थितियों में भी वे अपनी अभिव्यक्ति से समाज को एक दिशा देते हैं।
इसलिए जनता में राष्ट्रीय चेतना पैदा करने के लिये उन्हें हमेशा प्रयत्नशील रहना होगा। आरपी सरोज भारत सरकार की नीतियों एवं कार्यक्रमों से संबंधित जानकारी देते हुए पत्रकारों को बताया कि पीआइबी सरकारी योजनाओं के प्रचार-प्रसार की एक नोडल एजेंसी है, जो सरकार की योजनाओं की जानकारी लोगों तक पहुंचाने में एक सेतु का काम करती है। ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन सीतापुर जिला अध्यक्ष धीरेंद्र श्रीवास्तव ने ग्रामीण मीडिया कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि आम जनता तक सरकार की नीतियों, कार्यक्रमों और योजनाओं के प्रभावी तरीके से प्रचार-प्रसार के लिए जरूरी है कि पीआइबी और मीडिया के बीच संबंधों को मजबूत किया जाये। इसके लिये आवश्यक है कि पीआइबी की पहुंच दिल्ली या राज्य की राजधानियों के पत्रकारों तक सीमित न रहे, बल्कि जिले और निचले स्तर तक काम करने वाले पत्रकारों तक इसका विस्तार किया जाये। कार्यक्रम का उदेश्य विकासात्मक रिपोर्टिंग है।
एक दिवसीय कार्यशाला में तकनीकी सत्र के दौरान पीआइबी से संबंधित जानकारी पत्रकारों को उपलब्ध करायी गयी एवं ग्रामीण व विकासात्मक पत्रकारिता से संबंधित विभिन्न विषयों पर मुख्य वक्ताओं ने अपने विचार दिये। इस मौके पर रोहित मिश्रा, नीरज मिश्रा, संदीप श्रीवास्तव, दीपक श्रीवास्तव, ज्ञान प्रकाश सिंह, मणिकांत त्रिपाठी, ,बीके सिंह समेत सैकड़ों ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के पत्रकार मौजूद रहे। पत्रकार पंकज सिंह, डॉक्टर अल अहमद ,पीआइबी के निदेशक आर पी सरोज , डॉक्टर योगेंद्र सिंह आदि लोगों ने सम्बोधित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here