Home न्यूज यू पी महोत्सव में लोकगीतों संग फैशन का जलवा बिखरा 

यू पी महोत्सव में लोकगीतों संग फैशन का जलवा बिखरा 

130
0

पन्द्रहवीं सांस्कृतिक संध्या

गंगा राम अम्बेडकर यू पी गौरव सम्मान से सम्मानित

लखनऊ, 7 जनवरी 2023। प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट के तत्वावधान में सेक्टर ओ पोस्टल ग्राउण्ड केन्द्रीय विद्यालय के सामने अलीगंज लखनऊ में चल रहे 15वें यूपी महोत्सव-2022 की पन्द्रहवीं सांस्कृतिक संध्या में लोकगीतों संग फैशन का जलवा बिखरा।

15वें यू पी महोत्सव की पंद्रहवीं सांस्कृतिक सन्ध्या का शुभारम्भ मुख्य अतिथि गंगा राम अम्बेडकर राष्ट्रीय अध्यक्ष मिशन सुरक्षा परिषद ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस अवसर पर प्रगति पर्यावरण संरक्षण ट्रस्ट के उपाध्यक्ष एन बी सिंह ने मुख्य अतिथि गंगा राम अम्बेडकर राष्ट्रीय अध्यक्ष मिशन सुरक्षा परिषद को यू पी गौरव सम्मान से सम्मानित किया, वहीं विशिष्ट अतिथि विशाल आनन्द व हिमांशु अम्बेडकर को प्रगति रत्न सम्मान प्रदान किया।

इस अवसर पर भारतीय रिजर्व बैंक कानपुर द्वारा ई-बैंकिग जागरूकता कार्यक्रम हुआ, जिसमें आर बी आई के उपमहाप्रबंधक आकाश सोलंकी, देवेन्द्र यादव और विवेक पुष्टि क्रमशः सहायक प्रबन्धक ने ई बैंकिग के प्रति लोगों को जागरूक करते हुए बैंक के अलावा किसी अन्य एप्प से बैंकिग करने पर सावधानी बरतने का संदेश दिया।

प्रदेश सरकार द्वारा प्रद्वत कोविड-19 के नियमों के तहत आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत आयोजित यूपी महोत्सव की 15वीं सांस्कृतिक संध्या का आरम्भ श्रिया वर्मा ने बन ठण चली बोलो ऐ जाती रे पर नृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों को मंत्र मुग्ध कर दिया। इसी क्रम में अपूर्वा पाण्डेय ने आई हो कहां से गोरी आंखों में प्यार लेके व आस्था पाण्डेय ने मेरी पतली कमर पर मटका भारी पर नृत्य प्रस्तुत किया।

संगीत से सजे कार्यक्रम के अगले क्रम में सुषमा प्रकाश ने भजन प्रेम मुदित मन से कहो राम को सुनाकर किया। इसी क्रम में उन्होनें  बारामासा -मोरे राजा छतरिया लगाओ, नकटा -हमार बालमा मोटर गाड़ी चलावै की उत्कृष्ट प्रस्तुति दी। इसी प्रकार इंदु सारस्वत ने भजन – नगरी हो अयोध्या की,

मेला गीत – तनिक ललकार के बैली हाँको और नकटा- मै गोरी सइयां काले मिले को सुनाकर श्रोताओं का मन मोहा। इसके अलावा नितिन ने गजल और रजनी तिवारी ने लोक गीत नकटा फूल बलमू है हो फूल बलमू, झुलनिया हो झोकेदार पिया हमहुँ गढाईबे

एवं ई झुमका जी का जंजाल हो टूटिव नाही जाला को सुनाया।

मन को मोह लेने वाली इस प्रस्तुति के बाद यू पी महोत्सव के मंच पर युवक और युवतियों ने ग्लैमर युक्त फैशन का जलवा बिखेरा। मधु माही सिंह निर्णायक मंडल की उपस्थिति में मिस यू पी टैलेंट हण्ट के जरिए वर्षा प्रजापति, आयत खान, नन्दिनी, अनामिका, खुशबू कटियार, ऐश चौहान, खुशी सिंह और डॉली अवस्थी और श्री सिंह, अंश शर्मा, कार्तिक कपूर, जिशान और आशीष ने रैम्प पर कैटवाक कर अपनी सौंदर्ययुक्त प्रतिभा का परिचय तार्किकता और बौद्घिकता संग दिया। कार्यक्रम का संचालन अरविन्द सक्सेना ने किया।

संगीत से सजे कार्यक्रम के अगले सोपानों में शिवांश, मधुकर और राम शरण ने गणेश वंदना की प्रस्तुति दी। भक्ति भावना से परिपूर्ण इस प्रस्तुति के बाद नन्दिनी, सान्ध्वी, आराधना, आयुशी, देवकन्या, नेहा, राजेश्वरी और शताक्षी ने रेलिया बैरन पर आकर्षक लोकनृत्य प्रस्तुत कर दर्शकों की असंख्य तालियां बटोरीं।

इसके पूर्व आज दिन में मिशन सशक्तीकरण समिति द्वारा हमारी धरोहर कार्यक्रम हुआ। डॉ ज्योत्स्ना सिंह के संयोजन में पवन कुमार सोनी, रागिनी श्रीवास्तव, पूजा और आफरिन को दिशा प्रकाश पुंज सम्मान प्रदान किया गया। साधना मिश्रा, रेनू मिश्रा, तारा गुप्ता, नीरजा नीरू, अनीता मौर्या, नीतू सिंह, शशि तिवारी, अनुराधा पांडेय, जी एस गांधी, सविता व्यास और शताक्षी एस कुमार ने अपनी कविताओं से श्रोताओं को मंत्र मुग्ध कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here