Home न्यूज पर्यावरण संरक्षण में गौरैया काफी अहम

पर्यावरण संरक्षण में गौरैया काफी अहम

83
0

चैतन्य वेलफेयर फाउंडेशन ने डीबीएस मांटेसरी स्कूल, इंदिरा नगर में किया जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

लखनऊ। गौरैया संरक्षण अभियान के तहत चैतन्य वेलफेयर फाउंडेशन की ओर से जरहरा, इन्दिरा नगर स्थित डीबीएस मांटेसरी स्कूल में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें बच्चों और स्कूल स्टाफ को गौरैया संरक्षण के बारे में जानकारी दी गई। इस मौके पर बर्ड हाउस, मिट्टी के बर्तन व काकुन वितरित किए गए।
विश्व गौरेया दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में फाउंडेशन की सचिव ओम सिंह ने गौरैया का महत्व और इसके लुप्त होने से पर्यावरण पर पड़ रहे दुष्प्रभाव के बारे में बताया। इस मौके पर उन्होंने गौरैया से सम्बंधित प्रश्न भी पूछे। जिसका बच्चों ने उत्साहपूर्वक जवाब दिया। सही जवाब देने बच्चों को बर्ड हाउस, मिट्टी के बर्तन व दाना उपहार स्वरूप दिया गया। स्कूल के प्रबंधक डीबी चौहान ने कहा कि घर-घर में फुदकने वाली गौरैया प्रकृति चक्र की एक अहम कड़ी है, लेकिन आज यह विलुप्त होने के कगार पहुंच चुकी है। स्कूल की प्रिंसिपल प्रतिभा सिंह ने बताया कि पर्यावरण संरक्षण के लिए पेड़ पौधों को बचाने के साथ पशु पक्षियों का जीवित रहना भी जरूरी है। कार्यक्रम के अन्त में सभी लोगों को भविष्य में गौरैया संरक्षण के लिए शपथ दिलाई गयी। इस मौके पर वरिष्ठ पत्रकार विवेक पाण्डेय, समाजसेवी राजकुमार यादव, फोटो जर्नलिस्ट कामरान खान समेत शिक्षक व शिक्षिकाएं मौजूद रहे।

इन बच्चों ने जीता बर्ड हाउस व बर्ड फीडर
हर्षिता मिश्रा, सैनी कक्षा, अंजली दूबे, दिव्यांश सिंह. रिया मिश्रा, उत्कर्ष दूबे, ट्विंकल रावत, मुस्कान यादव, शिखा सैनी, विधान तिवारी, आयुष यादव, विशाल चौहान, अनुज यादव, काव्या शुक्ला, विवेक मिश्रा तथा दिव्यांश सिंह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here