Home ज्ञान विज्ञान ईश्वरीय स्वप्नाशीष सेवा समिति द्वारा शिव चरित पुराण पाठ का भव्य समापन

ईश्वरीय स्वप्नाशीष सेवा समिति द्वारा शिव चरित पुराण पाठ का भव्य समापन

48
0

लखनऊ, 2 सितंबर। भादो मास के प्रथम सप्ताह सत्य सनातन नारी शक्ति की संस्थापिका सनातन ध्वज वाहिका सपना गोयल ने ईश्वरीय स्वप्नाशीष सेवा समिति परिसर इन्दिरानगर में राम चरित मानस पाठ और शिव चरित पुराण पाठ का भव्य समापन समारोह हुआ। समापन समारोह में पंच पुरोहितों द्वारा जन कल्याण की भावना से 1008 आहुतियां देकर हवन पूजन संपन्न किया। समापन समारोह में आज सुन्दरकाण्ड पाठ संग विशाल भण्डारे का आयोजन भी हुआ। यहां हजारों लोगों ने प्रभु प्रसाद प्राप्त किया। इस अवसर पर सपना गोयल ने कहा कि सत्संग से वैराग्य, वैराग्य से विवेक, विवेक से स्थिर तत्त्वज्ञान और तत्त्वज्ञान से मोक्ष की प्राप्ति होती है। आयु बीत जाने के बाद काम भाव नहीं रहता। पानी सूख जाने पर तालाब नहीं रहता, धन चले जाने पर परिवार नहीं रहता और तत्त्व ज्ञान होने के बाद संसार में रहते हुए भी संसार नहीं रहता। धन, शक्ति और यौवन पर गर्व मत करो,समय क्षण भर में इनको नष्ट कर देता है। इस विश्व को माया से घिरा हुआ जान कर तुम ब्रह्म पद में प्रवेश करो।
किसी भी क्रांति या सामाजिक बदलाव की शुरुआत होती है लोगों को जगाने से। हम सभी सनातन धर्म प्रेमी एकत्र होकर कलयुग में हम राम नाम को आधार मानकर चलें। ईश्वरीय स्वप्नाशीष सेवा समिति लखनऊ सहित पूरे देश- प्रदेश और विदेश में सुन्दरकाण्ड पाठ, भजन- कीर्तन करके सनातन धर्म की अलख जगा रहा है, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग सनातन धर्म की महिमा को जान समझ सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here