Home न्यूज अपर्णा यादव ने किया अक्षय पात्र किचन का अवलोकन

अपर्णा यादव ने किया अक्षय पात्र किचन का अवलोकन

94
0

लखनऊ। भाजपा नेत्री अपर्णा यादव ने लखनऊ अक्षय पात्र किचन का अवलोकन किया। अक्षय पात्र फाउंडेशन के पदाधिकारी दिनेश शर्मा व विक्रांत मोहन ने अपर्णा को किचन का अवलोकन कराया। किचन देखने के बाद स्वामी अनंत दास जी महाराज ने अपर्णा को भागवत गीता व श्री राधा कृष्ण का चित्र देकर उनका अभिवादन किया।
अक्षय पात्र किचन देख कर साफ-सफाई सहित सभी व्यवस्थाओं की अपर्णा ने सराहना की व किचन के उज्जवल भविष्य की कामना की। अक्षय पात्र फाउंडेशन भारत की एक अशासकीय संस्था है जो देश के 14 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों के 19,039 स्कूलों के 1.8 मिलियन से अधिक बच्चों को हर स्कूल दिन में पौष्टिक भोजन परोस रहा है। अक्षय पात्र फाउंडेशन दुनिया का सबसे बड़ा गैर-लाभकारी मिड-डे मील कार्यक्रम वर्ष 2000 से चला रहा है। इसका मुख्यालय बेंगलुरु में है। वर्तमान में आंध्र प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, गुजरात, कर्नाटक, उड़ीसा, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना व उत्तर प्रदेश आदि राज्यो में अक्षय पात्र किचन स्थापित है।
यह संगठन सरकारी स्कूलों और सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में मिड-डे मील योजना को लागू करके कक्षा की भूख को खत्म करने का प्रयास करता है। साथ ही, अक्षय पात्र का उद्देश्य कुपोषण का मुकाबला करना और सामाजिक-आर्थिक रूप से वंचित बच्चों की शिक्षा के अधिकार का समर्थन करना भी है।
वर्ष 2000 से अक्षय पात्र हर एक स्कूल के दिन बच्चों को ताजा और पौष्टिक भोजन उपलब्ध कर रहा है। उत्तर प्रदेश में लखनऊ के साथ मथुरा, वाराणसी व गोरखपुर में भी अक्षय पात्र का किचन काम कर रहा है। लखनऊ में जहां 1472 स्कूलों के करीब सवा लाख बच्चों को भोजन दिया जा रहा है वहीं मथुरा में भी दो हजार स्कूलों के करीब सवा लाख बच्चों को दोपहर का पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। वाराणसी व गोरखपुर में भी बच्चों को दोपहर का पौष्टिक भोजन दिया जा रहा है। अक्षय पात्र अपनी पहुंच को बढ़ाने का भी लगातार प्रयास कर रहा है। अक्षय पात्र का सोचना है कि भूख से कोई भी बच्चा शिक्षा से वंचित न रहे। अक्षय पात्र फाउंडेशन वर्ष 2000 में मात्र 15 सौ बच्चों से यह सेवा शुरू किया था जो आज 1.8 मिलियन हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here