Home न्यूज न्यूज चैनल में बोलने की शैली एवं डिजिटल कैमरे का उपयोग

न्यूज चैनल में बोलने की शैली एवं डिजिटल कैमरे का उपयोग

88
0

लखनऊ, 3 जुलाई 2024। केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, लखनऊ परिसर, गोमती नगर में गतिमान हो रही पञ्चदिवसीय वी-लॉग कार्यशाला का आज तृतीय दिवस सम्पन्न हुआ।

कार्यशाला को मूर्तरूप देते हुए मीडिया जगत् के विशेषज्ञ संस्कृत न्यूज ऐंकर तथा असिस्टेंट एडीटर डी.डी. न्यूज चैनल, डा. नारायण दत्त मिश्र जी ने प्रतिभागियों को न्यूज चैनल में बोलने की शैली से अवगत कराया। अपने शैक्षणिक क्रम में श्री मिश्र ने आस्ट्रेलिया, इण्डोनेशिया, जर्मनी आदि देशों में अपने सांस्कृतिक धरोहर को चिह्नित करते हुए उन्हें नजदीक से समझकर अपने वक्तव्य को न्यूज चैनल पर प्रसारित करने के लिए छात्रों को निर्देशित किया।

उन्होंने यह भी बताया कि हमें पारम्परिक विद्याओ को तकनीकी से जोड़ने की आवश्यकता है। गुणवत्ता के साथ-साथ रूचिवत्ता पर भी विशेष ध्यान देना होगा, जो कुछ भी भविष्य में बनना है उसे अभी निर्णीत कर लेना चाहिए। वर्तमान समय में पल्लवग्राही ज्ञान की भी आवश्यकता है। वहीं दूसरे पक्ष (डिजिटल कैमरे का उपयोग) को हुये केन्द्रित करते हुये सिनेमा जगत में नेशनल अवार्ड विजेता श्री विकास शर्मा जी ने छात्रों को डिजिटल कैमरे के सामान्य एवं विशेष स्वरूप को बारीकियों से बताया एवं उसके प्रयोग करने की गतिविधियों पर भी प्रकाश डालते हुये कहा कि कैमरे की कुछ विशेषतएं आज कल की कुछ मोेबाइल फोन में भी देखने को मिलती है। जैसे स्वचालित कैमरा मोड, टाइमर, जूम, फ्लैश, मेमोरी, फोकस, आईएसओ आदि इन्ही सब विशेषताओं से ही मोबाइल फोन के माध्यम से समय के क्षणों को कैद किया जाता है।           उन्होंने यह भी बताया कि प्रतिदिन 108 मिलियन तस्वीरे वेव पर साझा की जाती है जो कि जीवन को रोक देती है और क्षणों को सूचना क डिजिटल पिक्सल पर बदल देती है किन्तु कैमरा में भिन्न गतिविधि देखने को मिलती है, इसी प्रकार विषय सम्बन्धी अनेक जानकारी सभी प्रतिभागियों को कराया। प्रशिक्षुक छात्रों ने उत्तर प्रत्युत्तर तथा प्रयोग करके कैमरे के विभिन्न पहलुओं के माध्यम से विषयगत अपने ज्ञान का वर्धन करते हुए इस महनीय कार्यशाला से लाभान्वित हो रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here